Dard Bhari Shayari In Hindi 2020 | दर्द भरी शायरी

Painful Dard Bhari Shayari In Hindi


1. तुमको छुपा रखा हे इन पलकों मे,पर इनको ये बताना नहीं आया,सोते हुए भीग जाती हे पलके मेरी,पलकों को अब तक दर्द छुपाना नहीं आया

Dard bhari shayari 2020
Dard Bhari Shayari


2. रोने से किसी को पाया नहीं जाता, खोने से किसी को भुलाया नहीं जाता, वक्त सबको मिलता है जिन्दगी बदलने के लिए, पर जिन्दगी नहीं मिलती वक्त बदलने के लिए

3. पास आकर सभी दूर चले जाते हैं, हम अकेले थे अकेले ही रह जाते हैं, दिल का दर्द किससे दिखाए, मरहम लगाने वाले ही ज़ख़्म दे जाते हैं.

4.आँखों में रहा दिल में उतर कर नहीं देखाकश्ती के मुसाफिर ने समंदर नहीं देखापत्थर मुझे कहता है मेरा चाहने वालामैं मोम हूँ उसने मुझे छू कर नहीं देखा

5. शिकायत है उन्हें कि,हमें मोहब्बत करना नही आता,शिकवा तो इस दिल को भी है,पर इसे शिकायत करना नहीं आता

6. बिन बात के ही रूठने की आदत है;किसी अपने का साथ पाने की चाहत है;आप खुश रहें, मेरा क्या है;मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है.

Dard Bhari Shayari
Dard Bhari Shayari 2020


7. तन्हा रहना तो सीख लिया हमने,लेकिन खुश कभी ना रह पाएंगे,तेरी दूरी तो फिर भी सह लेता ये दिल,लेकिन तेरी मोहब्बत के बिना ना जी पाएंगे.

8. हंसने के बाद क्यों रुलाती है दुनियां,जाने के बाद क्यों भुला देती है ये दुनियां,जिंदगी में क्या कोई कसर बाकी थी,जो मरने के बाद भी जला देती है ये दुनियां.

9 . तेरी उल्फत को कभी नाकाम ना होने देंगे,तेरी दोस्ती को कभी बदनाम ना होने देंगे,मेरी जिंदगी में कभी सूरज निकले ना निकले,तेरी जिंदगी में कभी शाम नहीं होने देंगे.

Dard Bhari Shayari Hindi 2020
Dard Bhari Shayari Hindi


10. लोग कहते हैं किसी एक के चले जाने से जिन्दगी अधूरी नहीं होती,लेकिन लाखों के मिल जाने से उस एक की कमी पूरी नहीं होती है

Dard Bhari Shayari
दर्द भरी शायरी


Best Dard Bhari Shayari Hindi 2020


11. उनका भी कभी हम दीदार करते हैउनसे भी कभी हम प्यार करते हैक्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थीपर फिर भी हम उनका इंतज़ार करते है.

12. ज़िंदगी ज़िंदगी नहीं जबतक मोहब्बत होती नही,ज़िंदगी ज़िंदगी नहीं जबतक मोहब्बत होती नही, मोहब्बत मोहब्बत नही जब तक हसा कर रुला देती नही.

13. ये जान गँवा दी, ये जुबां गँवा दी,
हमने तेरे इश्क में दो जहान गँवा दी,
सीने में पड़े थे दिल के हजार टुकड़े,
एक नज़र से तूने उनमें आग लगा दी.

14. वो हर बार अगर रूप बदल कर न आया होता,
धोका मैने न उस शख्स से यूँ खाया होता,
रहता अगर याद कर तुझे लौट के आती ही नहीं,
ज़िन्दगी फिर मैने तुझे यु न गवाया होता

15. यह आरजू नहीं कि किसी को भुलाएं हम;
न तमन्ना है कि किसी को रुलाएं हम;
जिसको जितना याद करते हैं;
उसे भी उतना याद आयें हम.

16. गुलसन है अगर सफ़र जिंदगी का तो इसकी मंजिल समशान क्यों है?
जब जुदाई है प्यार का मतलब तो फिर प्यार  वाला हैरान क्यों है?
अगर जीना ही है मरने के लिए तो जिंदगी ये वरदान क्यों है?
जो कभी न मिले उससे ही लग जाता है दिल,आखिर ये दिल इतना नादान क्यों है?

17. प्रेम करके हमने क्या पाया है,
बस अपना समय किया जाया है,
इश्क़ किया जिससे ज़हां से ज़्यादा,
उससे हमने बस धोखा खाया है.

18. "उसकी पलकों से आँसू को चुरा रहे थे हम, उसके ग़मोको हंसींसे सजा रहे थे हम, जलाया उसी दिए ने मेरा हाथ जिसकी लो को हवासे बचा रहे थे हम"

19. "आप  बेवफा  होंगे  सोचा  ही  नहीं  था, आप भी  कभी  खफा  होंगे  सोचा नहीं  था, जो  गीत  लिखे  थे  कभी  प्यार  पर  तेरे,
वही  गीत  रुसवा  होंगे  सोचा  ही  नहीं  था."

Dard Bhari Shayari In Hindi


20. "मेरे इश्क  में  दर्द  नहीं  था पर  दिल  मेरा  बे दर्द  नहीं  था, होती  थी  मेरी  आँखों  से  नीर  की  बरसात, पर  उनके  लिए  आंसू  और  पानी  में  फर्क  नहीं  था "

21. "काश कोई हम पर प्यार जताता, हमारी आंखों को अपने होंठों से छुपाता, हम जब पूछते कौन हो तुम, मुस्कुरा कर वो अपने आप को हमारी जान बताता"

22. "जिनकी आंखें आंसू से नम नहीं, क्या समझते हो उसे कोई गम नहीं, तुम तड़प कर रो दिये तो क्या हुआ, गम छुपा के हंसने वाले भी कम नहीं"

23. "ना पूछ मेरे सब्र की इंतेहा कहाँ तक हैं, तू सितम कर ले, तेरी हसरत जहाँ तक हैं, वफ़ा की उम्मीद, जिन्हें होगी उन्हें होगी,
हमें तो देखना है, तू बेवफ़ा कहाँ तक हैं."

24. "कोई अच्छी सी सज़ा दो मुझको, चलो ऐसा करो भूला दो मुझको, तुमसे बिछडु तो मौत आ जाये, दिल की गहराई से ऐसी दुआ दो मुझको"

Dard bhari shayari 2020
दर्द भरी शायरी


25. "जिंदगी देने वाले , मरता छोड़ गये, अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये,जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की, वो जो साथ चलने वाले, रास्ता मोड़ गये"

26. "दर्द देने का अंदाज कुछ ऐसा है
दर्द दे कर कहते है अब हाल कैसा है, ज़हर दे कर कहते है अब पीना होगा, जब पी लिए तो कहते है अब जीना होगा"

27. "ज़िंदगी से यू चले है इल्ज़ाम लेकर, बहुत जी चुके उसका नाम लेकर, अकेले बाते करेंगे वो इन सितारो से, जब हम चले जाएँगे उन्हे सारा आसमान देकर"

28. "बेताब से रहते हे तेरी याद मे अक्सर, रात भर नही सोते तेरी याद मे अक्सर, जिस्म मे दर्द का बहाना सा बना के, हम टूट के रोते हे तेरी याद मे अक्सर"

29. "ज़ख़्म जब मेरे सिने के भर जाएँगे, आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे, ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया, वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे"

Heart Touching Dard Bhari Shayari Hindi


30. "मेरे अल्फाज़ों को झूठ ना समझना,याद आती हो बहुत मिलने की दुआ करना, जी रहा हूँ तुम्हारा नाम लेकर, मर जाऊ तो बेवफा ना समझना"

31. "कभी रो के मुस्कुराए, कभी मुस्कुरा के रोए, जब भी तेरी याद आई तुझे भुला के रोए,
एक तेरा ही तो नाम था जिसे हज़ार बार लिखा,जितना लिख के खुश हुए उस से ज़यादा मिटा के रोए."

32. "रोने से किसी को पाया नहीं जाता, खोने से किसी को भुलाया नहीं जाता, वक्त सबको मिलता है जिन्दगी बदलने के लिए,पर जिन्दगी नहीं मिलती वक्त बदलने के लिए"

33. "मिलके बिछड़ना दस्तूर है जिंदगी का,
एक यही किस्स मशहूर है जिंदगी का,
बीते हुए पल कभी लौट कर नहीं आते,
यही सबसे बड़ा कसूर है जिंदगी का।"

34. "हमारे आंसूं पोंछ कर वो मुस्कुराते हैं,
उनकी इस अदा से वो दिल को चुराते हैं,
हाथ उनका छू जाये हमारे चेहरे को,
इसी उम्मीद में हम खुद को रुलाते हैं।"

35. "मत रख हमसे वफा की उम्मीद,
हमने हर दम बेवफाई पायी है,
मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,
हमने हर चोट दिल पे खायी है।"

36. "क्यों कोई चाह कर महोब्बत निभा नहींपाता,
क्यों कोई चाह कर रिश्ता बना नहीं पाता,
क्यों लेती है जिंदगी ऐसी करवट,
कि कोई चाह कर भी प्यार जता नहीं पाता।"

37. "पहले कभी ये यादें ये तनहाई ना थी,
कभी दिल पे मदहोशी छायी ना थी,
जाने क्या असर कर गयीं उसकी बातें,
वरना इस तरह कभी याद किसी की आयी ना थी।"

38. "हमारी दास्तां उसे कहां कबूल थी,
मेरी वफायें उसके लिये फिजूल थीं,
कोई आस नहीं लेकिन कोई इतना बतादो,
मैंने चाहा उसे क्या ये मेरी भूल थी।"

39. "तिनका तिनका तूफान में बिखरते चले गये,
तनहायी की गहराईयो में उतरते चले गये,
उड़ते थे जिनके सहारे आसमांन में हम,
एक एक करके सब बिछड़ते चले गये।"

40. "आंसूं पीते हैं प्यास बुझाने के लिये,
आग हमने ही लगायी थी खुद को जलाने के लिये,
इस जनम में तो मुमकिन नहीं,
और जनम लगेंगे आपको भुलाने के लिये।"

Dard bhari shayari
Dard Bhari Shayari


Post a Comment

0 Comments